छोड़कर सामग्री पर जाएँ
Home » राजा को पुस्तकों से क्या खतरा बताया था?

राजा को पुस्तकों से क्या खतरा बताया था?

राजा को लगा कि यदि किसी ने राजाओं के बारे में बुरा-भला लिखा होगा, तो उसकी प्रजा पर इससे बुरा असर पड़ेगा। उसका मानना था कि प्रजा को अपने राजा द्वारा दी गई आज्ञाओं का पालन करना चाहिए और समय पर कर देना चाहिए। परन्तु पुस्तकों के अध्ययन से प्रजा बागी हो सकती थी। अत: राजा ने सभी पुस्तकें जलवा दी।

फ्यान्स क्या था?

इन 15 चरणों का पालन कर अपनी किताब लिखें
  1. ये स्पष्ट रखें कि आप किताब क्यों लिखना चाहते हैं? …
  2. किताब लिखने के लिए स्थान चुनें …
  3. लिखने के दौरान काम में आने वाली सभी चीजों की व्यवस्था कर लें …
  4. लिखने का समय तय कर लें …
  5. किताब के विषय से जुड़ा शोध (research) करें …
  6. रूपरेखा (outline) तैयार करें …
  7. जोरदार शुरूआत करें

किसी भी टॉपिक पर किताब कैसे लिखें?

  • अपने लिए ज्यादा मुश्किल गोल तय करें लेकिन ध्यान रहे की बहुत जल्दी बहुत कुछ हासिल करने का प्रयत्न नहीं करें |
  • अगर आपने पहले ज्यादा लिखा नहीं है, तो आप अभ्यास के बिना ज्यादा जल्दी नहीं लिख पाएंगे |

दुनिया की नंबर 1 किताब कौन सी है?

Top 100 best selling books of all time
1234
Rank
Da Vinci Code,The
शायद तुम पसंद करोगे  पुस्तकालय समिति से आप क्या समझते हैं?