छोड़कर सामग्री पर जाएँ
Home » क्या यूपीएस को इन्वर्टर से जोड़ा जा सकता है?

क्या यूपीएस को इन्वर्टर से जोड़ा जा सकता है?

  • द्वारा

यूपीएस सीधे उपकरणों से जुड़ा होता है जबकि इन्वर्टर को पहले बैटरी से जोड़ा जाता है और फिर उपकरणों के सर्किट से जोड़ा जाता है। UPS में रेक्टिफायर और बैटरी उसके अन्दर ही होती है । जबकि इन्वर्टर में डी.सी. पावर को स्टोर करने के लिए बैटरी बाहर उपस्थित होती है।

इनवर्टर से आवाज क्यों आती है?

ऐसी सेटिंग चुनें जिनमें कम बैटरी खर्च होती है
  1. डिवाइस की स्क्रीन को जल्दी बंद होने दें.
  2. स्क्रीन की चमक कम करें.
  3. स्क्रीन की चमक को अपने-आप बदलने के लिए सेट करें.
  4. कीबोर्ड की आवाज़ या वाइब्रेशन बंद कर दें.
  5. ज़्यादा बैटरी खर्च करने वाले ऐप्लिकेशन पर रोक लगाएं.
  6. ज़रूरत के हिसाब से बैटरी के इस्तेमाल की सुविधा चालू करें.

बैटरी को ज्यादा देर तक कैसे चलाएं?

यूपीएस के Mainly तीन प्रकार है.
  • Standby UPS.
  • Line Interactive UPS.
  • Online UPS.

बैटरी कम चले तो क्या करें?

ऐसी सेटिंग चुनें जिनमें कम बैटरी खर्च होती है
  1. डिवाइस की स्क्रीन को जल्दी बंद होने दें.
  2. स्क्रीन की चमक कम करें.
  3. स्क्रीन की चमक को अपने-आप बदलने के लिए सेट करें.
  4. कीबोर्ड की आवाज़ या वाइब्रेशन बंद कर दें.
  5. ज़्यादा बैटरी खर्च करने वाले ऐप्लिकेशन पर रोक लगाएं.
  6. ज़रूरत के हिसाब से बैटरी के इस्तेमाल की सुविधा चालू करें.
शायद तुम पसंद करोगे  सबसे अच्छा इन्वर्टर की बैटरी कौन सी है?