छोड़कर सामग्री पर जाएँ
Home » आग्नेय और अवसादी चट्टानें क्या हैं?

आग्नेय और अवसादी चट्टानें क्या हैं?

आग्नेय शैल: मैग्मा और लावा के जमने से आग्नेय चट्टान का निर्माण होता है। इसे प्राथमिक चट्टान के रूप में भी जाना जाता है। उदाहरण: ग्रेनाइट और बेसाल्ट आदि। अवसादी शैल: अवसादी चट्टानें बहिर्जात प्रक्रियाओं द्वारा चट्टानों के टुकड़ों के जमाव का परिणाम हैं।

आग्नेय और अवसादी चट्टानों में क्या अंतर है?

जब आग्नेय चट्टाने हवा व पानी की वजह से दूर जाकर जमने लगती है तो इससे अवसादी चट्टानों का निर्माण होता है। आग्नेय चट्टानों से बनने के कारण ही इन चट्टानों को अवसादी चट्टानें कहा जाता है। आग्नेय चट्टानों के परत दर परत जमने से अवसादी चट्टानें बनती है। अतः अवसादी चट्टानों को परतदार चट्टानें भी कहा जाता है।

अवसादी चट्टान से क्या तात्पर्य है?

(2) अवसादी चट्टानें (Sedimentary rock)

प्रकृति के कारकों द्वारा निर्मित छोटी-छोटी चट्टानें किसी स्थान पर जमा हो जाती हैं और बाद में रासायनिक प्रतिक्रिया या अन्य कारणों से परत जैसी ठोस रूप में निर्मित हो जाती हैं. इन्हे ही अवसादी चट्टान कहते हैं.

अवसादी चट्टानें कौन कौन सी हैं?

दामोदर, महानदी तथा गोदावरी नदी बेसिनों की अवसादी चट्टानों में कोयला पाया जाता है। आगरा क़िला तथा दिल्ली का लाल क़िला बलुआ पत्थर नामक अवसादी चट्टानों से ही बना है। प्रमुख अवसादी शैलें हैं– बालुका पत्थर, चीका शेल, चूना पत्थर, खड़िया, नमक आदि।

चट्टान से आप क्या समझते हैं आग्नेय तथा अवसादी चट्टानों का तुलनात्मक अध्ययन प्रस्तुत कीजिये?

आग्नेय चट्टानें स्थूल परत रहित एवं जीवाश्म रहित होती हैं। ► ये चट्टानें आर्थिक रूप से उपयोगी मानी जाती हैं। इन चट्टानों में लोहा, निकिल, ताँबा, सीसा, जस्ता, क्रोमाइट, मैंगनीज, सोना तथा प्लेटिनम आदि पाए जाते हैं। ► झारखण्ड में पाया जाने वाला अभ्रक इन्हीं शैलों में मिलता है

सबसे कठोर चट्टान कौन सा है?

आग्नेय चट्टान स्थूल परतरहित, कठोर संघनन और जीवाश्मरहित होती है. आर्थिक रूप से यह बहुत ही सम्पन्न चट्टान है.

Rocks कितने प्रकार के होते हैं?

चट्टान मुख्यतः आग्नेय अवसादी एवं कायांतरित तीन प्रकार के होते हैं

अवसादी चट्टान का दूसरा नाम क्या है?

अवसादी चट्टान (Sedimentary Rock)

आग्नेय चट्टान की परत दर परत जमने से अवसादी चट्टाने बनती है। अतः इन्हें परतदार चट्टाने भी कहा जाता है।

अवसादी शैलों का दूसरा नाम क्या है?

अवसाद शैलों के प्रकार

ऐसी शिलाओं को व्यपघर्षण (डेट्राइटल) या एपिक्लास्टिक शैल कहते हैं। बलुआ पत्थर या शैल इसी प्रकार की शिलाएँ हैं।

अवसादी का क्या मतलब है?

अवसादी शब्द का शाब्दिक अर्थ है सेडीमेंट्स अथार्त व्यवसित होना है | अवसादी शैल , शैलो के छोटे छोटे टुकड़ों के जमने और ब्वस्थित होने से बनता है।

हीरा कौन से चट्टान में पाया जाता है?

हीरा किस प्रकार के चट्टानों में मिलती है? हीरा ज्ञात सबसे कठोर प्राकृतिक पदार्थ है। यह एक प्रकार की चट्टान में पाया जाता है जिसे किम्बरलाइट कहा जाता है।

शादी चट्टान क्या होती है?

अवसादी चट्टान से तात्पर्य है कि, प्रकृति के कारकों द्वारा निर्मित छोटी-छोटी चट्टानें किसी स्थान पर जमा हो जाती हैं, और बाद के काल में दबाव या रासायनिक प्रतिक्रिया या अन्य कारकों के द्वारा परत जैसी ठोस रूप में निर्मित हो जाती हैं।

शायद तुम पसंद करोगे  मेंटल एज कैसे पता लगाएं?

आग्नेय और अवसादी चट्टानें क्या हैं?

आग्नेय शैल: मैग्मा और लावा के जमने से आग्नेय चट्टान का निर्माण होता है। इसे प्राथमिक चट्टान के रूप में भी जाना जाता है। उदाहरण: ग्रेनाइट और बेसाल्ट आदि। अवसादी शैल: अवसादी चट्टानें बहिर्जात प्रक्रियाओं द्वारा चट्टानों के टुकड़ों के जमाव का परिणाम हैं

चट्टानें किससे बनी होती हैं?

चट्टानें खनिजों से बनी होती हैं । वे सभी एक प्रकार के खनिज हो सकते हैं, उदाहरण के लिए बलुआ पत्थर जो रेत से बना है या वे ग्रेनाइट जैसे कई अलग-अलग प्रकार के खनिजों से बने हो सकते हैं। चट्टानें पृथ्वी की पपड़ी बनाती हैं और उन सतह रूपों को शामिल करती हैं जिन्हें हम हर दिन देखते हैं।

भारत में हीरे की खान कहाँ है?

भारतीय खान ब्यूरो के मुताबिक, देश में हीरे के भंडार सिर्फ मध्य प्रदेश, आंध्र प्रदेश और छत्तीसगढ़ में ही हैं. यह भंडार मध्य प्रदेश में 90 फीसद तक है. एनएमडीसी की वेबसाइट के मुताबिक, मझगवां खदान की क्षमता सालाना 84,000 कैरेट की है.

1 ग्राम हीरे की कीमत क्या है?

साथ ही अगर दिल्ली में हीरे की कीमत देखी जाए तो वहां भी 0.2 ग्राम हीरे के लिए कीमत 65,000.00 और 100 मिलिग्राम हीरे की कीमत भी 6,500.00 रूपए है. इसी तरह एक कैरेट डायमंड की कीमत दोनों शहरों में ₹ 65,000.00 और आधे कैरेट की ₹ 32,500.00 है.

दुनिया में सबसे भारी पदार्थ कौन सा है?

ओस्मियम (Osmium ; संकेत : Os; परमाणुभार 190 ; परमाणुसंख्या 76) एक रासायनिक तत्व है। यह ज्ञात पदार्थों में सबसे भारी है।

मानव शरीर का सबसे कठोर पदार्थ कौन सा है?

मानव शरीर में सबसे कठोर पदार्थ दन्तवल्क है। यह एक बहुत ही कठोर और अत्यधिक खनिजयुक्त पदार्थ है जिसमें मुख्य रूप से कैल्शियम फॉस्फेट होता है।

सबसे मजबूत चट्टान कौन सी है?

सबसे कठोर चट्टान कौन सी होती है? आग्नेय चट्टान स्थूल परतरहित, कठोर संघनन और जीवाश्मरहित होती है. आर्थिक रूप से यह बहुत ही सम्पन्न चट्टान है.

रॉक कैसे बनता है?

आग्नेय चट्टानों के परत दर परत जमने से अवसादी चट्टानें बनती है। अतः अवसादी चट्टानों को परतदार चट्टानें भी कहा जाता है। इन चट्टानों में जीवाश्म पाए जाते हैं। खनिज तेल और शेल गैस आदि भी पाया जाता है।

तीन प्रकार की चट्टानें कौन सी है?

चट्टान मुख्यतः आग्नेय अवसादी एवं कायांतरित तीन प्रकार के होते हैं।

बड़ी चट्टानें छोटे टुकड़ों में कैसे टूटती हैं?

बड़ी चट्टानों के छोटे टुकड़ों में प्राकृतिक कारणों जैसे जल, हवा, पौधों की जड़ों तथा आपसी घर्षण के कारण टूटने की प्रक्रिया अपक्षयन (Weathering) कहलाती है। अपक्षयन की प्रक्रिया बहुत ही धीमी होती है। कुछ सेंटीमीटर मिट्टी की परत बनाने में सैकड़ों वर्ष लग जाते हैं

बच्चों के लिए चट्टानें क्या हैं?

एक चट्टान एक ठोस है जो विभिन्न खनिजों के समूह से बना है । चट्टानें आमतौर पर एक समान नहीं होती हैं या सटीक संरचनाओं से बनी होती हैं जिन्हें वैज्ञानिक सूत्रों द्वारा वर्णित किया जा सकता है। वैज्ञानिक आम तौर पर चट्टानों को वर्गीकृत करते हैं कि वे कैसे बने या बने थे। तीन प्रमुख प्रकार की चट्टानें हैं: मेटामॉर्फिक, आग्नेय और अवसादी।

शायद तुम पसंद करोगे  बाइसिकल का मतलब क्या होता है?

कोहिनूर हीरे की कीमत क्या है?

150 हजार करोड़ रुपए मानी जाती है हीरे की कीमत

-ऐसा माना जाता है कि कोहिनूर हीरे की कीमत 150 हजार करोड़ रुपए है। -105 कैरेट का ये हीरा ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय के ताज का हिस्सा है। -वहीं लुईस के अनुसार, यदि इस हीरे को बेचा जाए तो उससे 700 सालों तक सारी दुनिया को खाना खिलाया जा सकता है।

मैं अमेरिका में हीरे के लिए कहां खुदाई कर सकता हूं?

जवाब आपको चकित कर सकता है। अर्कांसस का क्रेटर ऑफ डायमंड्स स्टेट पार्क दुनिया में एकमात्र हीरा उत्पादक स्थलों में से एक है जहां जनता अपने मूल ज्वालामुखी स्रोत में हीरों की खोज कर सकती है। यहां नीति “ढूंढने वाले, रखवाले” है, जिसका अर्थ है कि जो हीरे आप पाते हैं, वे आपके पास रखने के लिए हैं।

दुनिया की सबसे ताकतवर धातु कौन सी है?

टंगस्टन पृथ्वी पर सबसे मजबूत प्राकृतिक धातु है, और इसके बाद टाइटेनियम आता है जिसकी मजबूती टंगस्टन से थोड़ी कम होती है। टंग्स्टन धातु प्राकृतिक रुप में सबसे मज़बूत धातु है। परंतु ज़्यादा उपयोगी सबसे मज़बूत धातु टायटेनीयम है।

दुनिया की सबसे मजबूत धातु क्या है?

1)प्लैटिनम को अब तक का सबसे कठोर धातु माना गया है। प्लैटिनम को एक अनमोल धातु के तौर पर इस्तेमाल किया जाता है और इसकी कीमत सोने से भी कई गुना अधिक है। यह चांदी जैसे रंग का होता है और इससे बने आभूषणों को बहुत सरहाया जाता है। 2) हीरे को सबसे कठोर पदार्थ कहा गया है

दुनिया की सबसे मूल्यवान धातु कौन सी है?

दुनिया की सबसे कीमती धातु है पैलेडियम, जो अब दुनिया की चार सबसे महंगी धातुओं की सूची में अव्‍वल है. इसकी सबसे बड़ी वजह है कि हमेशा इस धातु की शॉर्टेज बनी रही है. यह उतनी मात्रा में मौजूद नहीं है, जितनी इसकी मांग है.

धरती पर सबसे ज्यादा धातु कौन सी पाई जाती है?

Detailed Solution

एल्यूमिनियम पृथ्वी की भूपर्पटी में सबसे प्रचुर मात्रा में उपलब्ध धातु है क्योंकि यह इसका लगभग 8% हिस्सा है। इसकी परमाणु संख्या 13 है और यह आवर्त सारणी के समूह 13 में स्थित है।

दुनिया का सबसे मजबूत पदार्थ कौन है?

ग्रेफीन में समानांतर कार्बन परमाणुओं की श्रृंखला होती है और इसे दुनिया का सबसे मजबूत पदार्थ यानी ”सुपर मटीरियल” माना जाता है. लेकिन कार्बाइन इससे भी दो गुना मजबूत है. वैज्ञानिक पहले इसकी गणना कर चुके हैं कि ग्रेफीन की एक पतली चादर को तोड़ने के लिए एक पेंसिल की नोक पर हाथी के बराबर ज़ोर लगाना पड़ेगा.

शायद तुम पसंद करोगे  ऊंट का पेशाब क्या काम आता है?

क्या पानी सबसे भारी पदार्थ है?

नहीं, पानी का वज़न लगभग 8.3 पाउंड होता है। प्रति गैलन जबकि सोने का वजन लगभग 160 पाउंड होता है। प्रति गैलन।

शरीर में सबसे मजबूत चीज क्या है?

शरीर का सबसे मजबूत हिस्सा कंकाल है, क्योंकि सामान्य तौर पर हड्डियां स्टील की तुलना में औंस के लिए औंस मजबूत होती हैं। अधिक विशेष रूप से, मानव शरीर में सबसे मजबूत हड्डी फीमर है, क्योंकि इसे तोड़ने के लिए औसतन लगभग 4,000 न्यूटन बल लगता है।

शरीर का सबसे मजबूत अंग कौन सा है?

Detailed Solution. ऊर्वस्थि (फीमर) मानव शरीर की सबसे मजबूत हड्डी है।

दुनिया की सबसे पुरानी चट्टान कौन सी है?

आग्नेय चट्टानें –
  • पृथ्वी की उत्पत्ति के बाद सबसे पहले इन्हीं चट्टानों का निर्माण हुआ है !
  • इसलिए इन्हें प्राथमिक चट्टान कहा जाता है !
  • आग्नेय चट्टानों का निर्माण मेग्मा तथा लावा के ठण्डे होकर जमा होने से होता है !
  • आग्नेय चट्टानों मे परतों (Layers) का अभाव पाया जाता है !

भारत की सबसे पुरानी चट्टान कौन है?

सही उत्तर धारवाड़ क्षेत्र, कर्नाटक है। भारत में सबसे पुरानी चट्टानें धारवाड़ क्षेत्र, कर्नाटक से बताई जाती हैं।

बच्चों के लिए चट्टानें कहां से आती हैं?

गुरुत्वाकर्षण तलछट को पानी के शरीर के तल पर बसने का कारण बनता है। ये तलछट धीरे-धीरे जमा होती हैं, जिससे परतें बनती हैं जो नीचे तलछट की परतों को संकुचित करती हैं। तलछट को घेरने वाले पानी में घुले हुए खनिज होते हैं जो चट्टान का निर्माण करते हुए तलछट के दानों को एक साथ पुन: व्यवस्थित और सीमेंट करते हैं।

भारत की सबसे पुरानी चट्टानें कहाँ से प्राप्त हुई हैं?

दुनिया की सबसे पुरानी चट्टान भारत के किस राज्य में पाई गई है? अरावली पर्वत श्रंखला भारत कि सबसे पुरानी श्रंखला है. यह दिल्ली के संसद भवन राष्ट्रपति भवन जिसे हम रायसीना हिल कहते है, से लेकर राजस्थान गुजरात के माउंट अबू तक जाती है.

बच्चों को कैसे ट्रीट करें?

उनके ध्यान को किसी और तरफ लगा दें: छोटे बच्चे बहुत जल्दी चिढ़ जाते हैं और शोर मचाना शुरू कर देते हैं! अगर आपका छोटा बच्चा किसी ऐसी चीज़ या काम में बिजी है, जिसे वो किसी और के साथ शेयर नहीं करना चाहता, तो उसे कुछ और करने को दे दें। उनका पूरा ध्यान किसी और काम पर लगा दें। जब वो दूसरा काम कर रहा हो, तब उसकी तारीफ करें

प्राथमिक चट्टानें कौन सी होती है?

सही उत्तर आग्नेय है। आग्नेय चट्टानों को प्राथमिक चट्टानों के रूप में जाना जाता है। उन्हें प्राथमिक कहा जाता है क्योंकि वे पृथ्वी के आंतरिक भाग से मैग्मा और लावा से बनते हैं। मैग्मा के ठंडा होने और ठोस रूप में बदलने पर आग्नेय चट्टानें बनती हैं।

दुनिया की सबसे ऊंची चट्टान कौन सी है?

अमेरिका के कैलिफोर्निया में येशोमित नेशनल पार्क में ग्रेनाइट से बनी दुनिया की सबसे बड़ी चट्‌टान है। डॉन वॉल नाम की इस चट्टान की ऊंचाई है 3000 फीट।